KT.v-1.2 What is Trust?

विश्वास ये केवल शब्द नही ये वो नींव है जिस पर मनुष्य का जीवन टिका हुआ है | किंतु आज या तो हम किसी पर अविश्वास करते हैं या अन्धविश्वास, दोनों ही परिस्थियां घातक होती हैं, क्योंकि अविश्वास हमारे मन में भय और असुरक्षा को जन्म देता है वहीँ अंध विशवास आक्रोश को|

तो प्रश्न ये उठता है कि विश्वास की परिभाषा क्या है?

विश्वास की परिभाषा जाननी है तो अपने मन से पूछिये  पहले स्वयं पर विश्वास कीजिये की आप इस संसार के महत्वपूर्ण व्यक्ति हैं, ये विश्वास आपको अपनी शक्ति का ज्ञान करवाएगा और शक्ति अपने उत्तरदायित्व का और फिर अपने आप लक्ष्य मिल जाएगा मार्ग मिल जाएगा |

TRUST or FAITH is not only a word, trust or faith is the foundation on which rests the life of man, But we today either distrust or superstition, Both circumstances are deadly Because no faith in our mind gives rise to fear and insecurity, while blind faith anger.

So, the question that arises is what is the definition of faith or trust?

Ask your mind if you want to know the definition of faith. Believe that you are world’s first self-important man. This will make sure you know your power and the power of his responsibility and then you will know your goal you will know your route.

Advertisements

Create a website or blog at WordPress.com

Up ↑